स्वास्थ्य को लेकर स्कूल के बच्चो को किया जागरूक- आचार्य राजेश कुमार

0
37

हरियाणा ब्यूरो चीफ साहून खांन मेवात की रिपोर्ट

नूह : मोहम्मद रमज़ान (सैफ़ी पोस्ट) राजीव दीक्षित स्वदेशी रक्षक संघ के द्वारा राजकीय उच्च विद्यालय खेड़ा खलीलपुर में एक स्वास्थ्य संगोष्ठी का आयोजन किया गया जिसमें आचार्य राजेश कुमार ने बताया हमारे शरीर के लिए स्वच्छ पानी स्वच्छ वातावरण की जरूरत है ये हमारी मूलभूत आवश्यकता है, हमें अपनी जीवनशैली को बदलना होगा पाश्चात्य संस्कृति से भारतीय संस्कृति ओरआना होगा उन्होंने बताया पर्यावरण की समस्या को अपने जन्मदिन पर एक पेड़ लगा कर के दूर किया जा सकता है। छायादार फलदार पेड़ अपने जीवन काल में ₹2000000 लाख से अधिक की ऑक्सीजन हमें देते हैं स्वस्थ शरीर में ही स्वस्थ मन और मस्तिष्क का निवास होता है आचार्य जी ने स्वदेशी भारत से स्वाबलंबन भारत की ओर लौटना होगा संगोष्ठी में चर्चा करते हुए उन्होंने कहा फ्रीज हमारे शरीर को स्वस्थ रखने के लिए एक धीमा जहर के रूप में काम कर रहा है इससे हमें केलोरिन फ्लोरीन तथा कार्बन डाइऑक्साइड गैस की प्राप्ति होती है जो स्वास्थ्य के लिए हानिकारक है शुद्ध पानी का पीएच मान 7.0 है और कॉल ड्रिंक का पीएच मान 2.4 से 3.5 तक होता है वहीं पीएच मान तेजाब जो हमारे घरों में शौचालय साफ करने के काम आता है दोनों का बराबर है

आचार्य जी ने बच्चों को संबोधित करते हुए कहा ऐसे ही जंग फूड फास्ट फूड जैसे बर्गर पिज़्ज़ा मोमोज नूडल्स मैगी ब्रेड समोसे जो विद्यार्थियों के लिए अत्यंत हानिकारक है उन्हें छोड़ने के लिए बच्चों से आह्वान किया गया पॉलिथीन हटाओ देश बचाओ का नारा देते हुए आचार्य जी ने बताया भारत में प्रतिदिन पॉलिथीन का कचरा 60 टन होता है और 50940 टन कूड़ा करकट प्रत्येक दिन इकट्ठा हो जाता है प्रदूषण की समस्या को रोकने के लिए या हमें घर से बने थैले का प्रयोग करना होगा संगोष्ठी के समापन पर आचार्य राजेश कुमार ने शिक्षक दिवस शुभकामनाएं देते हुए कहा अध्यापक राष्ट्र का निर्माण समाज का निर्माण तथा व्यक्ति का निर्माण करता है समाज के निर्माण में अध्यापक का महत्वपूर्ण योगदान है इसलिए अध्यापक वर्ग को समाज में सुधार के लिए आगे आना चाहिए इस अवसर पर स्कूल के प्राचार्य श्री मनोज कुमार मिडिल हेड श्री नरेंद्र कुमार प्राइमरी हेड श्री ताराचंद मुंशी राम जी राजवीर श्रवण कुमार नितिन सरोज मैडम संजू राज सिंह उषा मैडम हर भूषण अरुण राजकुमार कृष्ण विजय ज्ञान मोहम्मद नरेंदर मास्टर भूदेव देशवाल तथा मोहन मास्टर उपस्थित रहे।